तीन दिवसीय दिव्यांग टी-20 सीरीज में भारत ने अफगानिस्तान को दी मात

सीरीज पर 2 -0 से किया कब्ज़ा

भिवानी/नोयडा, 25 मई 2017, ग्रेटर नोयडा स्थित शहीद विजय पथिक स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स परिषर मैदान में पीसीसीएआई द्वारा जेपी मलिक की याद में भारत और अफगानिस्तान मुकाबले का आयोजन टॉस कर किया गया। अवसर पर प्रोजेक्ट चेयमैन अमन मलिक और जीएम प्रोजेक्ट नोयडा अथॉर्टी राजीव त्यागी की उपस्थिति में टॉस किया गया।अग्निस्तान टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में लाजबाब पारी खेलते हुए भारत के सामने 161 रनों के स्कोर खड़ा किया।रात्रि 12 बजे तक डे नाईट मैच रोमांचक दृश्य के साथ रहा। दोनों देशों की टीमों में लगातार कड़ा मुकाबला बना रहा। पहले मैच में भारत ने टॉस जीतकर अफगानिस्तान को 173 रनो का टारगेट दिया पर इस टारगेट पर अफगान टीम सेंध नहीं लगा पाई और भारत पहले मुकाबले में विजय रहा। दूसरा मैच में टॉस अफगान ने जीतकर बल्लेबाजी की और भारत के समक्ष 161 रनो का स्कोर खड़ा कर दिया। लेकिन भारत के दिव्यांग खिलाडियों ने इस टारगेट को 18 ओवर्स में 5 विकेट के नुकसान पर पूरा कर दिया। तीसरे दिन के मैच में अफगान टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्ले बाजी करते हुए भारत के सामने सीरीज में 197 का बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया। इस स्कोर को भारत पर नहीं कर पाया और यह मैच अफगानिस्तान ने 35 रन से जीत लिया। लेकिन सीरीज ट्रॉफी पर भारत लगातार दो मैच जीतकर पहले ही कब्ज़ा कर चूका था यदि भारत फाइनल मैच और जीत जाता तो यह सीरीज 3-0 से भारत के लिए बड़ी जीत होती।  

पीसीसीएआई के अध्यक्ष सुरेंद्र लोहिया, महासचिव रवि चौहान, संस्था के सीईओ रविंद्र भाटी और प्रोजक्ट चयरमैन अमन मलिक ने   भारत द्वारा सीरीज जितने पर खुशी जताई है कि भारत ने तीन दिवसीय सीरीज जीतकर देश और पीसीसीएआई टीम का नाम रोशन किया है । कहा कि देश में पहली बार दिव्यांग खिलाडियों ने अंतर्राष्ट्रीय मैदान में बड़ा मुकाबला खेला है ।  कहा कि इन खिलाडियों को दुनिया मे आगे बढ़ाने की जरूरत है। इनकी स्पॉट के लिए पीसीसीएआई हरकदम पर आगे है।यदि यही रहा तो ये दिव्यांग खिलाडी देश का नाम दुनिया रोशन करेंगे। पीसीसीएआई ने   एशिया कप का एलान किया है कि यदि सरकार और बीसीसीआई स्पॉट करे तो जल्द देश में पहला दिव्यांग एशिया कप होगा और उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि मोदी जी दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए कुछ कीजिए,ये वर्ल्ड में देश का नाम रोशन करेंगे। कहा की यहाँ से हरी झंडी मिलने के बाद पीसीसीएआई जल्द देश में दिव्यांग एशिया कप करवाएगी। 

तीन दिवसीय सीरीज के समापन समारोह में दुबई से पहुंची चीफ पटर्न नीलम अग्रवाल,मुख्य अतिथि राज मलिक,श्री राजीव त्यागी जीएम प्रोजेक्ट ग्रेटर नोयडा अथॉर्टी ने भारत की सीरीज जीत पर खुशी जताई और खिलाडियों को सम्मान दिया गया। दोनों देशों की प्रस्तावित इस सीरीज को लेकर अफगानिस्तान मुख्य टीम के कोच लालचंद राजपूत,फिल्म अभिनेता कनुप्रिया,औशिम खेतरपाल, व हिटाची सीपीआर हड विनोद उमेश कामत, प्रोजक्ट चेयरमैन अमन मलिक ,महंत चरणदास महाराज सहित अनेक खेल प्रेमियों ने भी ख़ुशी जताई है।  

 गौरतलब भिवानी में पीछे वर्ष 2016 को भारत और अफगान टीम के बीच मुकाबला हो चूका है। यही दोनों देश दिल्ली के रोशनारा मैदान में भी सद्भावना मैच खेल चुके हैं। यह सीरीज पीसीसीएआई के प्रोजक्ट चेयरमैन रहे स्व.जेपी मलिक की याद में रही । जो भारत की  टीम को अफगानिस्तान में खिलाने ले गए थे ,जिनका वही अचनाक ह्रदय गति से रुकने से निधन हो गया था। जिस मैदान में यह मुकाबला हुवा है यहाँ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल परिषद पहली बार पिंक बॉल से दलीप ट्रॉफी में डे नाईट मैच में इतिहास रच चूका है।जीएम प्रोजेक्ट राजीव त्यागी,हिटाची से मुकेश कामत,ओलम्पिक खिलाड़ी दीपा मलिक,,ध्यानचंद अवॉर्डी गिरिराज सिंह भी खिलाडियों को आशीर्वाद देंगे। मैच में ग्रेटर नोयडा डवलेपमैंट अथॉर्टी,हिटाची ,करावन प्लाजा होटल,स्वदेश कमेटी अफगानिस्तान,सी डब्ल्यू स्पोर्ट्स,दिल्ली कॉलेज ऑफ़ फोटोग्राफी,ओटीएल,केसीएम,शिरडी साईं बाबा फाउंडेशन,भज्जी स्पोर्ट्स,डीडी स्पोर्ट्स सहित अनेक सहयोगी दिव्यांग खिलाड़ियों को सम्मान देने पहुंचे। सीरीज में बालयोगी महंत चरणदास महाराज का सानिध्य रहेगा।