हरियाणा की बेटियों का हर क्षेत्र में डंका: सोलंकी

चण्डीगढ़, 22 जनवरी 2018- हरियाणा के राज्यपाल प्रो० कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि हरियाणा की बेटियों का आज खेल ही नहीं, हर क्षेत्र में डंका बज रहा है। 
यह बात उन्होंने आज हिसार एस्ट्रोटर्फ पर आयोजित 8वीं हॉकी इंडिया सब-जूनियर वुमन नेशनल हॉकी चैंपियनशिप के समापन समारोह में बतौर मुख्यातिथि उपस्थितजन को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने 6-1 से विजेता बनी हरियाणा की टीम को गोल्डन कप व खिलाडिय़ों को गोल्ड मेडल प्रदान कर सम्मानित किया। चैंपियनशिप में दूसरे स्थान पर रही मध्यप्रदेश की टीम को सिल्वर व गंगपुर ओडिशा की टीम को तृतीय पुरस्कार के रूप में कांस्य मेडल प्रदान किए। 
राज्यपाल प्रो० सोलंकी ने हॉकी हिसार को अपने कोष से 5 लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की। राज्यपाल प्रो० कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि आज इतने अच्छे एस्ट्रोटर्फ पर बेटियों को खेलते और दौड़ते देखकर मुझे अपार खुशी हो रही है। उन्होंने कहा कि बेटियों ने आज अपने आप को साबित करते हुए यह दिखा दिया है कि वे किसी भी मामले में लडक़ों से कम नहीं हैं। उन्होंने कहा कि देश की बेटियां आज तेजी से आगे बढ़ रही हैं और हरियाणा की लड़कियों ने तो हर क्षेत्र में अपना डंका बजा दिया है। राष्ट्रीय ही नहीं, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हॉकी हो या कुश्ती, हरियाणा की बेटियां मेडल से झोलियां भर रही हैं। राजनीति के क्षेत्र में भी यहां की लड़कियां व महिलाएं तेजी से अपना वर्चस्व स्थापित कर रही हैं।
राज्यपाल ने कहा कि हार-जीत तो खेल का हिस्सा है, बड़ी बात है खेल में अपना योगदान देना। यदि खिलाड़ी को खेलने का अवसर मिलता है और वह खेल भावना से खेलता है तो उसके सामने हार-जीत कोई मायने नहीं रखती है। उन्होंने कहा कि आज की विजेता और उप-विजेता दोनों टीमों से मेरा संबंध है। हरियाणा की टीम का इस प्रकार कि मैं यहां का राज्यपाल हूं और मध्यप्रदेश की टीम से मेरा संबंध इस प्रकार है कि वह मेरा गृहराज्य है। उन्होंने दोनों टीमों को फाइनल में खेलने पर बधाई देते हुए खिलाडिय़ों को उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने चैंपियनशिप में आई सभी टीमों का स्वागत करते हुए उनका आभार व्यक्त किया।
प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली टीमों के अलावा राज्यपाल प्रो० कप्तान सिंह सोलंकी ने हरियाणा की दीपिका को बेस्ट प्लेयर, हरियाणा की सिमरन चोपड़ा को बेस्ट गोलकीपर, सांई की अंजना डुंगडुंग को बेस्ट डिफेंडर, हरियाणा की मंजू चोरसिया को सेंटर हॉफ तथा गंगपुर ओडिशा की मनीषा ओरम को बेस्ट फॉरवर्ड का खिताब प्रदान किया। फेयर प्ले ट्रॉफी सांई को प्रदान की गई। मुख्यातिथि ने ओलंपिक खिलाड़ी सैय्यद अली, हॉकी इंडिया के प्रतिनिधि महेंद्री नेगी, टूर्नामेंट डायरेक्टर राकेश भाटिया, एम्पायर एवं मैनेजर हर्षवर्धन तथा विशेष सहयोग के लिए सुप्रिया फाउंडेशन के सतेंद्र श्योराण को भी सम्मानित किया।
हॉकी हरियाणा के अध्यक्ष व अतिरिक्त मुख्य सचिव धनपत सिंह व जिला अध्यक्ष प्रो. मंदीप मलिक ने अतिथिगण का स्वागत करते हुए बताया कि 10 से 21 जनवरी के बीच आयोजित राष्ट्रीय हॉकी चैंपियनशिप में 19 राज्यों के खिलाडिय़ों ने भागीदारी की। उन्होंने इसमें सहयोग करने वाले खेल जगत के व्यक्तियों व प्रशासनिक अधिकारियों का आभार व्यक्त किया। राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने खिलाडिय़ों व टीमों के साथ-साथ हॉकी हिसार को भी सम्मानित किया। अतिरिक्त उपायुक्त एएस मान की पहल पर लड़कियों की हॉकी चैंपियनशिप दिखाने के लिए डाबड़ा, तलवंडी राणा, आर्यनगर, सुशीला भवन व टोकस के सरकारी स्कूलों की 50-50 लड़कियों व उनकी शिक्षकाओं को भी एस्ट्रोटर्फ मैदान लाया गया था।
इस अवसर पर विधायक डॉ. कमल गुप्ता, हॉकी हरियाणा के अध्यक्ष धनपत सिंह, पुलिस अधीक्षक मनीषा चौधरी, अतिरिक्त उपायुक्त एएस मान, हॉकी हरियाणा के महासचिव सुनील मलिक, जिला अध्यक्ष प्रो. मंदीप मलिक, भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष सोनाली फौगाट व भाजपा के जिला महामंत्री सुजीत कुमार भी मौजूद थे।