जेईआरसी के सामने पावरमैन यूनियन ने सुरक्षा का मुद्दा उठाया

चष्डीगढ़ 13 फरवरी 2018- जेईआरसी सी द्वारा ए आर आर की सुनवाई के दौरान यूटी पावरमैन यूनियन ने विभाग में कर्मचारियों की कमी तथा सुरक्षा का मुद्दा विशेष तौर पर उठाया । यूनियन के महासचिव गोपाल दत्त जोशी ने कमीशन के सामने अपनी बात रखते हुए कहा कि विभाग में 30 साल पहले 1780 पोस्टें थी । उस समय कुल कनैक्शन 1 लाख 12 हजार थे, आज 30 साल बाद कनैक्शन बढ़कर 2 लाख 25 हजार से अध्कि हो चुके है इसके अलावा 1220ज्ञटए 1366 ज्ञट तथा 533 ज्ञट तथा 11 ज्ञट सब-स्टेशन बने हैं । लेकिन कर्मचारियों की गिनती घटकर 830 रह गयी है । उन्होनें कमीशन से अपील की कि विभाग में सभी संशोध्ति पोस्टों में से खाली पडी 700 से अध्कि पोस्टों को रेगुलर तौर पर भरा जाय तथा जो कर्मचारी आउटसोर्स पर रखे गये हैं उन्हें विभाग के अध्ीन किया जाय । इस दौरान विभाग में काम करते हुए मृतक कर्मचारियो के आश्रितों को विशेष तौर पर पक्की नौकरी देने व मुवाअजा देने तथा कर्मचारियों के लिए स्पेशल वेलफेयर फन्ड बनाकर उनका बीमा कराने तथा मैडीकल इन्शोरेंस व अन्य  सहूलियतें इस फन्ड से देने की मांग की । उन्होनें इन्सूलेटेड केवल डालने, चोरी रोकने, 100 प्रतिशत मीटरिंग करने, डिपाल्ंिटग अमाऊन्ट रिकवर करने तथा इन्फोरसमेंट विंग को मजबूत करने तथा घरेलू कनैक्शन लेकर उसे व्यापारिक मकसद के लिए करने वाले उपभोक्ताओं पर डीएमसी चार्ज बहाल करने की अपील की । उन्होनें कहा कि विभाग में कर्मचारियों की भर्ती कर तथा सामान का इन्तजाम कर पब्लिक को सर्विस अन्छी की जा सकती है उसके लिए कारपोरेशन बनाने व निजीकरष की जरूरत नहीं है क्योंकि जहां भी वोर्डो को तोड़कर कारपोरेशन या प्राईवेट किया गया वहां हालात और बिगडे है उनसे कई गुना चन्डीगढ़ में बेहतर व निर्विघ्न सर्विस दी जा रही है तथा बिजली के दाम भी अन्य राज्यों से कम है ।