हरमोहन धवन ने कहा "फैडरेशन के साथ गुंडागर्दी नहीं चलने देंगे"

धवन उतरे हाउसिंग बोर्ड फेडरेशन के समर्थन में

राज सिंह 

चंडीगढ़ 12 मार्च 2018। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं चंडीगढ़ जन कल्याण मंच के अध्यक्ष हरमोहन धवन ने रविवार को सेक्टर-61 में भाजपा कार्यकर्ताओं और हाउसिंग बोर्ड फैडरेशन के मेम्बरों के बीच हुए टकराव की निंदा की। धवन के अनुसार ऐसी स्थिति नहीं आनी चाहिए थी। भाजपा को इस पर पूरा ध्यान रखना चाहिए था। उन्होंने कहा इन सब के बावजूद हाउसिंग बोर्ड फैडरेशन के साथ किसी भी तरह की धक्काशाही या गुंडागर्दी नहीं होने देंगे। इसके लिए कल्याण मंच के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को किसी भी हद तक जाना होगा तो जाएंगे। अन्यथा धक्काशाही तुरंत बंद हो। धवन ने यह भी कहा कि प्रशासन फैडरेशन की मांगों तुरंत पूरा करे।

जन कल्याण मंच के अध्यक्ष धवन ने पुलिस पर भी पक्षपात का आरोप लगाया। उन्होंने पुलिस प्रसाशन से सवालिया लहजे में कहा कि धारा 144 लगने के बावजूद जनसभा करने की इजाजत तो दी जा सकती है। पर दूसरी ओर हाउसिंग बोर्ड फैडरेशन की तरफ से शांतिपूर्ण प्रोटेस्ट की अनुमति नहीं दी जा सकती, ऐसा क्यों। प्रसाशन की यह मनमानी बिल्कुल भी नहीं चलेगी। उन्होंने कहा कि हाउसिंग बोर्ड फेडरेशन बरसों से जरुरत के मुताबिक मकानों में बदलाव को रेगुलराइज़ कराने के लिए संघर्ष करते आ रहे हैं। इसके बाद भी प्रसाशन के कानों में जू नहीं रेंग रहा हैजबकि भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव से पहले अपने घोषणा पत्र में वादा किया था कि जीतने के बाद हॉउसिंग बोर्ड और भिन्न-भिन्न कलोनिओं में हुई वॉयलेशन को रेगुलराइज करवांयेंगे और पावर ऑफ़ अटॉर्नी पर बिके हुए मकानों का मालिकाना हक़ भी दिलवाएंगे। फिर भी अभी तक एक भी वायदा पूरा नहीं हुआ। धवन ने खेद प्रकट करते हुए कहा कि आज जनता हमसे पूछ रही है कि भाजपा द्वारा किये गए वादों का क्या हुआजबकि पार्टी की तरफ से हाउसिंग बोर्ड में 3 मनोनीत डायरेक्टर भी लगे हैं।

जन कल्याण मंच के अध्यक्ष धवन ने हाउसिंग बोर्ड फैडरेशन और कालोनी वासियों की मांगों को उचित ठहराया। साथ ही उन्होंने कहा कि उक्त मांगों को पूरा करवाने के लिए सड़क पर उतरना पड़ा तो उतरेंगे और संघर्ष करेंगे. मंच जनता के साथ खड़ा है.